बातचीत से खुलेंगे दिल के रास्‍ते, इन 4 टिप्‍स की मदद से अपनों को लाएं करीब - Hindi News; Latest Hindi News, Breaking Hindi News Live, Hindi Samachar (हिंदी समाचार), Hindi News Paper Today - Ujjwalprakash Latest News
बातचीत से खुलेंगे दिल के रास्‍ते, इन 4 टिप्‍स की मदद से अपनों को लाएं करीब

बातचीत से खुलेंगे दिल के रास्‍ते, इन 4 टिप्‍स की मदद से अपनों को लाएं करीब


परिवार और रिश्‍तों (Relationships) की खूबसूरती तभी है जब सब एक साथ हों, एक दूसरे को समझें और हर खुशी-गम में एक दूसरे का साथ दें. मगर कई बार काम का दबाव हो या अन्य कारण हम चाह कर भी अपने परिवार (Family) से घुल मिल नहीं पाते. ऐसे में हमारा आपस में संपर्क टूटने लगता है. बातचीत कम होती है तो गलतफहमियां भी पनपने लगती हैं. ऐसे में जरूरी है कि परिवार में बातचीत का सिलसिला जारी रहे. इससे यह समझने में भी मदद मिलती है कि आपके घर का वातावरण नकारात्मक अधिक है या सकारात्मक (Positive). वहीं अक्सर जब हम एक दूसरे के संपर्क में नहीं रहते, मिलते नहीं तो इससे दूरियां बढ़ने लगती हैं और कई बार ये कारण पारिवारिक संघर्ष को भी बढ़ाते हैं और भावनात्मक लगाव (Emotional Attachment) को कम करते हैं. इसलिए कुछ अहम कदम अपने परिवार को एकजुट बनाए रखने के लिए जरूर उठाएं. अपनों के साथ बातचीत का सिलसिला बनाए रखने से परिवार में एकता रहती है, सब एकजुट रहते हैं.

आप एक-दूसरे को बेहतर जानते हैं

कभी-कभी हमारा व्यस्त जीवन हमें एक दूसरे से बातचीत करने से रोकता है और जब आप कभी आप साथ में समय बिताते हैं तो कई बार ऐसा भी महसूस होता है कि जैसे हम अपनों को कम जानते हैं. इसलिए बातचीत, मिलने जुलने का सिलसिला जारी रखें. इससे आप एक दूसरे को बेहतर तरीके से जान पाएंगे.

ये भी पढ़ें – ये 4 संकेत बताते हैं कि आपका डेटिंग पार्टनर आपसे कर रहा है धोखा

यह गॉसिप को रोकता है

जब आपको बातचीत करने का समय नहीं मिलता तो इससे यह लग सकता है कि आप इसकी उपेक्षा कर रहे हैं. ऐसे में दूरियां आना लाजिमी है. तो कई तरह की गलतफहमियां भी फैल सकती हैं. शायद उन्हें लगता है कि आप उनसे बच रहे हैं या जानबूझकर उनकी अनदेखी कर रहे हैं, जबकि वास्तव में ऐसा नहीं होता.

ऐसे सुधारें फैमिली कम्‍युनिकेशन

इन तरीकों को अपना कर आप अपने परिवार के सदस्यों के बीच अच्छे संवाद स्थापित कर सकते हैं और अपने संबंधों को बेहतर बना सकते हैं-

डिनर टेबल पर हों साथ

दिन भर भले ही समय न मिले, लेकिन यह कोशिश करें कि कम से कम डिनर साथ में ही सब मिल कर करें. अपने परिवार को एक मेज पर करीब लाएं. एक साथ भोजन का आनंद लेना आपको बातचीत का मौका देगा और रिश्‍तों को बेहतर बनाएगा. साथ ही यकीन मानिए यह भोजन को भी कई गुना अधिक मजेदार बना देगा.

एक समय तय करें

आपको परिवार के लोगों के साथ समय बिताने का मौका नहीं मिलता तो दिन भर में बातचीत के लिए एक घंटे का समय जरूर निर्धारित करें. इतना न हो सके तो कम से कम 20 मिनट तो ऐसे जरूर रखिए, ताकि इस समय के दौरान आप कुछ गतिविधियों की योजना बनाएं या कुछ और बातचीत करें. इससे सब अपनी बातें साझा करेंगे और आपको यह जानने का भी मौका मिलेगा कि आपके परिवार में क्या चल रहा है.

ये मौके लाएंगे करीब

एक साथ समय बिताने का बेहतरीन अवसर गेम हो सकते हैं. आप आपस में मिल कर वीडियो गेम, गोल्फ या ऐसी कोई भी चीज जिसमें सब शामिल हों कर सकते हैं और सबके साथ का आनंद ले सकते हैं. सप्ताह के अंत में मूवी नाइट्स की योजना बना सकते हैं. साथ ही अन्य सरल गतिविधियों में आपके बच्चों को रात को सोने से पहले पढ़ना या उनको कहानी सुनाना शामिल हो सकता है.

ये भी पढ़ें – अगर आप हैं हाउसवाइफ तो हैप्‍पी लाइफ के लिए फॉलो करें ये रूल्‍स

बुजुर्गों और बच्‍चों को सुनें

परिवार के संचार को बेहतर बनाने की कोशिश करते समय इस बात का ध्‍यान रखें कि आप अपनों की बातों को सुनने की भी आदत डालें. फिर चाहें आपके घर के बच्‍चे हों या बुजुर्ग. इसी तरह आप जो कहते हैं उससे कहने से पहले दो बार सोच लें. ताकि अपने बड़ों की बात सुन कर आप उस पर ऐसी प्रतिक्रिया न दे दें जिससे संबंध खराब हों.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *