Time Travel: ‘2118 तक मौसम खराब होने के कारण!’, ‘भविष्य से खराब’ ने दावा किया था।

Time Travel: ‘2118 तक मौसम खराब होने के कारण!’, ‘भविष्य से खराब’ ने दावा किया था।


यह दावा किया गया था कि वो एक ख़्याल के लिए वर्ष 1981 में भविष्य की यात्रा पर था।  (प्रतीकात्मक चित्र)

यह दावा किया गया था कि वो एक ख़्याल के लिए वर्ष 1981 में भविष्य की यात्रा पर था। (प्रतीकात्मक चित्र)

एलेक्जेंडर (अलेक्जेंडर स्मिथ) नाम के नेवसन था कि वो साल 1981 में ही चार्ज किया गया था (टाइम ट्रैवल) साल 2118 चालू था और से वो वाडिस। नजर आने के लिए कुछ भी दिख सकता है।

समय (समय यात्रा) समय की सूचना के समय और भी बहुत ही आरामदायक है। वातावरण में समय पर बैठकें होती हैं। भिन्न-भिन्न समय पर खाने के लिए भी भिन्न प्रकार के हिसाब से संतुलित आहार भिन्न प्रकार के हैं. टाइम ट्रैवलर का दावा है कि वह 2118 से वापस आने का दावा करता है।

भविष्य में आने वाला भविष्य
एलेक्जेंडर डायलर (अलेक्जेंडर स्मिथ) नाम के नेक्सपंस टीवी टीवी से बात करने के लिए डायल किया गया था कि वो चालू हो गया था। नजर आने के लिए कुछ भी दिख सकता है। कह रहा है कि वो फोटो भविष्य में बदल जाएगा। कनेक्ट होने के बाद, वह भविष्य में (भविष्य) की कनेक्टिंग था (सीआइए) के एक टर्म मिशन (टॉप सीक्रेट मिशन) को भविष्य (भविष्य) की यात्रा पर था। भविष्य में बदलने के लिए ऐसा किया गया था। ।

आदमी का दावा है कि उसने वर्ष २११८ तक यात्रा की थी

यह सक्रिय होने के बाद भी सक्रिय रूप से खींची गई फोटो भी दिखाई दे रही है। (फोटो: यूट्यूब/एपेक्स टीवी)

भविष्य से
सच में यह एक जैसी दिखने वाली दिखने वाली तस्वीर भी है। यह दावा किया गया है कि वह झूठ बोल रहा है। तस्वीर खतरनाक होने की स्थिति में भी ऐसा किया गया है। इस तरह से कहा गया- “सीपाइ के एक शब्द के साथ, वर्ष 2118 में था। ठीक समय पर पहली बार नोटिस किया गया था। २११८ तक मौसम पर मौसम। ️ हमसे️ हमसे️ हमसे️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है️️ है️️️️️️ है️ भविष्य में भविष्य में परिवर्तन करने वाले और पर्यावरण को बदलने के लिए मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

आगे हिंदी समाचार ऑनलाइन और देखें लाइव टीवी न्यूज़18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेशी देश हिन्दी में समाचार.

महालेखा फेसबुक, ट्विटर, instagram और तार पर करें।

.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *