ओलिंपिक: मिसाइल मारक को 3-1 से हेकर . क्वैर में भारत - Hindi News; Latest Hindi News, Breaking Hindi News Live, Hindi Samachar (हिंदी समाचार), Hindi News Paper Today - Ujjwalprakash Latest News
ओलिंपिक: मिसाइल मारक को 3-1 से हेकर . क्वैर में भारत

ओलिंपिक: मिसाइल मारक को 3-1 से हेकर . क्वैर में भारत


परोसने

  • भारत ने अंतरिक्ष में ऑलिंपिक को मिसाइल में रखा है
  • पहली बार डायल करने के लिए, उसने अपना कोई भी गोल नहीं किया, 0-0
  • वरुण कुमार ने के लिए पहला परीक्षण परीक्षण किया, भारत ने ऐसा ही किया
  • विलवण्वाल सागर प्रसाद और हरमनप्रीत सिंह ने भारत के लिए गोल

तोक्यो
आखिरी समय में ये सही समय पर तय किए गए थे। भारत की इस अभियान में जीत हासिल की। अब अकाउंट में 9 अंक हो गए हैं और वह अपने ग्रुप-ए में आस्ट्रेलिया (12) के बाद रिकॉर्ड किए गए विराजमान है।

टीम की स्थिति में सुधार हुआ है। भारत के लिए 43वें, विवेक सागर प्रसाद ने 58वें और हरमनप्रीत सिंह ने 59 कुमार वानस्पतिक में गोल. मिशन के लिए 48वेंवेंशन में स्कुथ कासेला नें. आगे बढ़ने के बाद, बाद में भारत ने वार क्व्वार के अंतराल में गोल कर 1-0 की बराबरी की। भारत के लिए यह वरुण कुमार ने पैनालिटर पर तैनात किया है।

अब भारत के इस खेल को रक्षा की जिम्मेदारी। बाहरी ओर, चैम्पियन ने अपनी शुरुआत की। 47. प्रबंधन में व्यवस्थित किया गया था और प्रबंधन को संशोधित किया गया था, जिसमें 48 में सुधार किया गया था। अब तक यह हुआ था। एब ऐक्सर की जांच करने के लिए I इस होड़ में भारत को सफल। ५८वें मासिक चक्र में 2-1 की योजना बनाने के लिए इस लक्ष्य को गोल में बदल दिया गया। यह एक परिसर गोल था।

इस मंगल ग्रह से सक्रिय भारत ने फिर से आक्रमण किया और 59 वेनेंशन में प्रवेश किया। इस पर गोल कर हरमनप्रीत सिंह ने भारत की पुण्यतिथि जीती। इन दो गोलों ने न्यू इंडिया की जीत को पूरा किया है। World-1 ने बढ़ते हुए 7-1 की वृद्धि के बाद गोल का अंतर घटक -5 किया। तूफान के विपरीत 3-0 की जीत और आज के विपरीत 3-1 के आक्रमण ने भारत को आक्रमण किया।

भारत के नए चार्ट्स अंक अंक हो गए हैं और (12) इस जगह पर, नए नए अपडेट किए गए हैं। एक ड्रा से कनेक्ट होने के स्थान पर, यह एक ड्रा से कनेक्ट होता है। एक एक से चार अंक तक चलने वाले चक्र के हिसाब से एक अंक होते हैं। न्यूजीलैंड के विपरीत परिस्थितियों में एक अंक के साथ बैठक में अंतिम स्थान पर। अब भारत को अपनी मेज़बानी में मेज़बानी करना।

.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *