DA Image

इंग्लैंड और स्विट्जरलैंड ने फीफा वर्ल्ड कप का कटाया टिकट, इटली को खेलना होगा प्लेऑफ


इंग्लैंड और स्विट्जरलैंड ने अगले साल कतर में होने वाले फीफा वर्ल्ड कप फुटबॉल के लिए सीधे क्वालीफाई कर लिया है, लेकिन इटली को चार साल पहले की तरह फिर से प्लेऑफ में खेलना होगा। इटली ने उत्तरी आयरलैंड के खिलाफ अपना मैच गोलरहित ड्रॉ खेला, जिससे यूरोपीय चैंपियन अपने क्वालीफाइंग ग्रुप में स्विट्जरलैंड के बाद दूसरे स्थान पर रहा। स्विट्जरलैंड ने बुल्गारिया को 4-0 से हराकर इटली को पीछे छोड़ा और ग्रुप सी में टॉप पर रहकर शान से वर्ल्ड कप में जगह बनाई।

इटली और स्विट्जरलैंड अपने अंतिम मैच में समान 15 अंकों के साथ उतरे थे। इटली गोल अंतर के कारण ग्रुप में टॉप पर था, लेकिन मैच ड्रॉ खेलने से उसकी सीधे क्वालीफाई करने की उम्मीदों पर पानी फिर गया। स्विट्जरलैंड की तरह इंग्लैंड ने भी कतर का सीधा टिकट कटाया। उसने सैन मैरिनो को 10-0 से करारी शिकस्त देकर ग्रुप में टॉप स्थान हासिल किया। इंग्लैंड ने क्वालीफाइंग में 39 गोल किए, जो किसी भी टीम से सबसे ज्यादा हैं। हैरी केन ने चार गोल किए, जिससे इंग्लैंड की तरफ से उनके कुल गोल की संख्या 48 हो गई है। वह वायने रूनी के नैशनल रिकॉर्ड से अब केवल पांच गोल पीछे हैं। केन ने अपने सभी गोल पहले हॉफ में किए।

यह 1964 के बाद पहला मौका है, जबकि इंग्लैंड ने किसी मैच में अपने गोल की संख्या दोहरे अंक में पहुंचाई। केन के अलावा हैरी मैगुआयर, एमिली स्मिथ रोव, टायरन मिंग्स, टैम अब्राहम और बुकायो साका ने भी गोल किए। स्कॉटलैंड ने ग्रुप एफ के विजेता डेनमार्क को 2-0 से हराकर क्वालीफाइंग में उसका विजय अभियान थामा। इससे स्कॉटलैंड भी इटली की तरह प्लेऑफ में वरीय टीम के रूप में भाग लेगा। इंग्लैंड के ग्रुप में पोलैंड आखिरी मैच में हंगरी से 2-1 से हारने के बावजूद दूसरे स्थान पर रहा और उसे प्लेऑफ में पहला मैच विदेशी धरती पर खेलना पड़ सकता है।