Call Forward kya Hota Hai

Call forwarding एक ऐसी सेवा है जिसके माध्यम से आप अपने आने वाले कॉल्स को किसी अन्य नंबर पर रीडायरेक्ट कर सकते हैं। यह सुविधा बहुत उपयोगी होती है जब आप किसी कारणवश अपने फोन का उपयोग नहीं कर सकते या किसी दूसरे नंबर पर कॉल प्राप्त करना चाहते हैं। आज हम इस पोस्ट में जानेंगे Call Forward kya Hota Hai और इसे कैसे उपयोग किया जाता हैं !

Call Forwarding की 4 Settings

Call forwarding की चार मुख्य सेटिंग्स होती हैं:

  1. Always Forward (हमेशा फॉरवर्ड करें): इस सेटिंग के माध्यम से आपके सभी इनकमिंग कॉल्स एक दूसरे नंबर पर फॉरवर्ड हो जाते हैं, चाहे आपका फोन ऑन हो या ऑफ।
  2. When Busy (जब बिजी हो): इस सेटिंग में केवल तब कॉल फॉरवर्ड होती है जब आपका नंबर बिजी होता है।
  3. When Unanswered (जब उत्तर नहीं देते): यदि आप किसी कॉल का उत्तर नहीं देते, तो वह कॉल एक निर्धारित समय के बाद दूसरे नंबर पर फॉरवर्ड हो जाती है।
  4. When Unreachable (जब पहुंच में नहीं): यह सेटिंग तब काम आती है जब आपका फोन नेटवर्क से बाहर हो या बंद हो।

Call Forwarding के फायदे और नुकसान (Pros and Cons)

फायदे (Pros):

  1. Accessibility (सुलभता): जब आप नेटवर्क के बाहर होते हैं या आपका फोन बंद होता है, तब भी आप महत्वपूर्ण कॉल्स प्राप्त कर सकते हैं।
  2. Convenience (सुविधा): आप अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक कॉल्स को अलग-अलग नंबरों पर फॉरवर्ड कर सकते हैं।
  3. Flexibility (लचीलापन): आप आसानी से कॉल्स को किसी भी नंबर पर फॉरवर्ड कर सकते हैं, चाहे वह मोबाइल हो या लैंडलाइन।
  4. Professionalism (पेशेवर दृष्टिकोण): बिजनेस के लिए यह सुविधा बहुत उपयोगी होती है, क्योंकि इससे कोई भी कॉल मिस नहीं होती।

नुकसान (Cons):

  1. Cost (लागत): कुछ ऑपरेटर कॉल फॉरवर्डिंग के लिए अतिरिक्त शुल्क लेते हैं।
  2. Complexity (जटिलता): सभी उपयोगकर्ताओं के लिए सेटिंग्स को समझना और लागू करना आसान नहीं हो सकता।
  3. Privacy (गोपनीयता): कॉल्स को फॉरवर्ड करने पर आपकी कॉल्स की गोपनीयता कम हो सकती है।
  4. Missed Calls (छूटे हुए कॉल्स): यदि फॉरवर्ड किया गया नंबर भी उपलब्ध नहीं है, तो कॉल्स मिस हो सकती हैं।

Call forwarding करने के लिए क्या चाहिए?

Call forwarding को सक्रिय करने के लिए आपको अपने मोबाइल फोन और नेटवर्क प्रोवाइडर की सहायता लेनी होगी। अधिकांश स्मार्टफोन में यह सुविधा बिल्ट-इन होती है और इसे सक्रिय करने के लिए कोई अतिरिक्त हार्डवेयर की आवश्यकता नहीं होती।

Call forward कैसे करते हैं

Step-by-Step Guide:

  1. अपने फोन की सेटिंग्स में जाएं।
  2. “Call Settings” या “Call Forwarding” विकल्प खोजें।
  3. चारों प्रकार की सेटिंग्स में से किसी एक को चुनें।
  4. वह नंबर दर्ज करें जहां आप कॉल्स को फॉरवर्ड करना चाहते हैं।
  5. “Activate” या “Save” पर क्लिक करें।

Call Forwarding की प्रक्रिया विभिन्न मोबाइलों में

IQOO में call forward कैसे होता है

  1. “Settings” में जाएं।
  2. “SIM card & mobile networks” चुनें।
  3. “Call settings” पर क्लिक करें।
  4. “Call forwarding” का विकल्प चुनें।
  5. संबंधित विकल्प को चुनकर नंबर दर्ज करें और सेव करें।

Vivo में call forwarding कैसे करें

  1. “Settings” में जाएं।
  2. “Phone” विकल्प चुनें।
  3. “Call forwarding” पर क्लिक करें।
  4. संबंधित विकल्प चुनें और नंबर दर्ज करें।
  5. “Enable” या “Save” पर क्लिक करें।

Keypad Mobile में call forwarding कैसे करें

  1. “Menu” पर जाएं और “Settings” चुनें।
  2. “Call settings” या “Call forwarding” पर जाएं।
  3. वांछित विकल्प चुनें और नंबर दर्ज करें।
  4. “Activate” या “Save” पर क्लिक करें।

Call forward बंद कैसे करें

Call forwarding बंद करने के लिए:

  1. अपने फोन की सेटिंग्स में जाएं।
  2. “Call settings” या “Call forwarding” का विकल्प चुनें।
  3. संबंधित विकल्प को चुनें और “Deactivate” या “Disable” पर क्लिक करें।

Call Forward का पता कैसे करें?

Call forwarding की स्थिति जांचने के लिए:

  1. अपने फोन में डायलर ओपन करें।
  2. *#21# डायल करें और कॉल करें।
  3. स्क्रीन पर आपको जानकारी मिल जाएगी कि कौन सी सेवाएं सक्रिय हैं।

निष्कर्ष (Conclusion)

Call Forward kya Hota Hai: जो आपको अपने कॉल्स को दूसरे नंबर पर रीडायरेक्ट करने की सुविधा प्रदान करती है। यह सुविधा तब बहुत काम आती है जब आप अपने फोन का उपयोग नहीं कर सकते या किसी विशेष कारणवश कॉल्स को किसी अन्य नंबर पर फॉरवर्ड करना चाहते हैं। इसे सक्रिय करना और बंद करना बहुत ही आसान है और यह अधिकांश स्मार्टफोन में उपलब्ध होती है।

Call Forwarding की प्रक्रिया विभिन्न मोबाइलों में (Sheet Format)

मोबाइल ब्रांडSettingsStep-by-Step प्रक्रिया
IQOOSIM card & mobile networks1. Settings → 2. SIM card & mobile networks → 3. Call settings → 4. Call forwarding → 5. विकल्प चुनें → 6. नंबर दर्ज करें → 7. Save
VivoPhone Settings1. Settings → 2. Phone → 3. Call forwarding → 4. विकल्प चुनें → 5. नंबर दर्ज करें → 6. Enable/Save
Keypad MobileCall Settings1. Menu → 2. Settings → 3. Call settings → 4. Call forwarding → 5. विकल्प चुनें → 6. नंबर दर्ज करें → 7. Activate/Save

यदि आपको और किसी सहायता की आवश्यकता हो तो कृपया इस लिक ujjwalprakash.com पर क्लिक करे:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *