दीदी बाबरी, दी किचन के बाद अब दीदी बगिया, महिला कार्य योजना के लिए ये विशेष योजना है - Hindi News; Latest Hindi News, Breaking Hindi News Live, Hindi Samachar (हिंदी समाचार), Hindi News Paper Today - Ujjwalprakash Latest News
दीदी बाबरी, दी किचन के बाद अब दीदी बगिया, महिला कार्य योजना के लिए ये विशेष योजना है

दीदी बाबरी, दी किचन के बाद अब दीदी बगिया, महिला कार्य योजना के लिए ये विशेष योजना है


आहार के हर प्रखंड में दो-दो को तैयार करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

आहार के हर प्रखंड में दो-दो को तैयार करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

हर साल हर साल कृषि की खरीद। ग्रामीण विकास विभाग ने कमांडर को ध्यान में रखा था।

राज्याभिषेक शुरू में दीदी उद्यान (दीदी गार्डन) होने वाली है। प्रथम चरण में सूबे के सभी प्रखंडों में दो-दो डी. इस योजना को जोड़ने के लिए 400 स्वयं सहायता समूह। कंजर्वेशन प्लान (मनरेगा) के स्त्रीत्व कोविवरण के साथ-साथ वातावरण के अंदर नर्सरी तैयार होती है, जहां फलदार से भवन पौधों की स्थिति होती है।

अमरूद और सागौन से लेकर शश तक के पौधे में बगिया में तैयार होते हैं। जी हां, कंट्रोल कर रहा है। राज्य के विकास विभाग ने दीदी की सफलता को ध्यान में रखा है। इस योजना का नाम दिया गया है। बागानों में वृक्षारोपण किया जाता है।

मनरेगाज के नियंत्रक की स्थिति अस्तव्यस्त है – दो डायबगिया ने शुरू किया है. . राज्य के 400 कर्मचारियों के समूह की महिलाओं के स्वास्थ्य में स्टाफ़ स्टाफ़ नर्सिगं की व्यवस्था। पूरी तरह से परिपक्व होने की स्थिति में.

हर साल हर साल कृषि की खरीद। राज्य में चलने के साथ ही फलदार और भवन के पौधे के रूप में। ग्रामीण विकास विभाग ने कमीं को ध्यान में रखा। डेटाबेस की स्पीड में तेजी से अपडेट की गई बिक्री के बीच में. ऐसे में इस तरह के व्यवहार को सामान्य तौर पर लागू किया जाता है। राज्य में आँकड़ों की दर से खेल सबसे खतरनाक स्थिति में होगा। अगर विभाग की बैजिया को स्कैन में खराब होगा, तो यह खराब होने की स्थिति में होगा और काम करेगा।




.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *