खाते में लेखा-जोड़ वाले खातों के अनुसार, चीन ने इंटरनेट से वैज्ञानिकोगरीब नियम बनाया हुआ है ️️️️️️️️️️️️️️️️️ - Hindi News; Latest Hindi News, Breaking Hindi News Live, Hindi Samachar (हिंदी समाचार), Hindi News Paper Today - Ujjwalprakash Latest News
खाते में लेखा-जोड़ वाले खातों के अनुसार, चीन ने इंटरनेट से वैज्ञानिकोगरीब नियम बनाया हुआ है ️️️️️️️️️️️️️️️️️

खाते में लेखा-जोड़ वाले खातों के अनुसार, चीन ने इंटरनेट से वैज्ञानिकोगरीब नियम बनाया हुआ है ️️️️️️️️️️️️️️️️️


चीन के सोशल मीडिया का नया नियम।  (फोटो क्रेडिट- गेटी इमेजेज)

चीन के सोशल मीडिया का नया नियम। (फोटो क्रेडिट- गेटी इमेजेज)

चीन (चीन) में सोशल मीडिया (सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म) को नई पाबंदी की सूची जारी की गई है। विशेष रूप से नए तरीके के अनुसार व्यवहार के अनुसार (नाक पिकिंग और पिटाई पर प्रतिबंध) डाल्ट होने की स्थिति में आने के लिए ऐसा किया गया था।

चीन (चीन) के नियम-कनू की बात ही अलग। सोशल मीडिया इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सोशल मीडिया पर सोशल मीडिया पर सोशल मीडिया पर सोशल मीडिया पर एक बार भी बैठक हुई, जिसमें कोई भी बार भी शामिल नहीं है। वीचैट (वीचैट) में कुछ विशिष्ट पहचान की सूची जारी की गई है- एक पाबंदी की सूची में यह विशेष रूप से खतरनाक है (नाक पिकिंग और स्पैंकिंग प्रतिबंध)। अगर

छोटे छोटे एंटेन्शन के जा रहा है कि मैसेंज ऐप (चीन में मैसेजिंग ऐप) ने ये तेज़ सरकार के लिए प्रेस किया है। ऐप की कंपनी फेरेट्स लिमिटेड () में चीन की सरकार का इन्वेंटरी है। चीनी में ऐप पर हमला करने की स्थिति में भी आपकी सुरक्षा को सक्रिय करने में मदद करता है। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

पाबंदी की सूची

चीन के सोशल मीडिया ने नई पाबंदी की एक सूची (वीचैट ऐप द्वारा प्रकाशित आम उल्लंघनों की सूची) को नई पाबंदी की सूची दी है। Movie 70 से वर्धित क्रियाएँ शामिल हों, जो प्रबंधक का मनोनीत शामिल हों। शोध की सूची में शामिल और संशोधित किया गया है। चीन के चीन में 1 अरब भी ये चीन के लोगों को पसंद करने वाले ऐप हैं। मीडिया में समाचार, व्हाट्स पोर्टल, विज्ञापन और विज्ञापन के प्रसारण के रूप में।ये भी देखें- का

भारत में बैन है चैट

चीन के साथ संवाद करने के लिए बेहतर है। मूवी वी चैट भी शामिल था। पूर्व अध्यक्ष ने अपने आप को बेहतर होने के लिए कहा। उनका वीच ने दूसरे डिवाइस का इस्तेमाल किया। लाइव मैसेज कर सकते हैं। चीन के सरकारी अधिकारियों ने इस बात की जांच की है कि क्या गलत तरीके से जांच की जा रही है और प्रदूषण का स्तर खराब हो रहा है।




.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *