सूरत के चिड़ियाघर में 14 साल की बाघिन की लीवर फेल होने से मौत | सूरत समाचार - टाइम्स ऑफ इंडिया - Hindi News; Latest Hindi News, Breaking Hindi News Live, Hindi Samachar (हिंदी समाचार), Hindi News Paper Today - Ujjwalprakash Latest News
सूरत के चिड़ियाघर में 14 साल की बाघिन की लीवर फेल होने से मौत |  सूरत समाचार – टाइम्स ऑफ इंडिया

सूरत के चिड़ियाघर में 14 साल की बाघिन की लीवर फेल होने से मौत | सूरत समाचार – टाइम्स ऑफ इंडिया


सूरत: 14 साल की सांभवी नाम की बाघिन ने बनाया था सरथाना नेचर पार्क पिछले सात वर्षों से उसके घर ने बुधवार तड़के दम तोड़ दिया।
4 जून की शाम से ही बड़ी बिल्ली का इलाज चल रहा था, जब वह नियमित जांच के दौरान बाड़े में निष्क्रिय पाई गई थी। प्राथमिक जांच के दौरान यह सर्पदंश या शरीर में न्यूरोटॉक्सिन की उपस्थिति के कारण लकवाग्रस्त पाया गया था।
“इसकी रक्त रिपोर्ट से पता चला कि जिगर से समझौता किया गया था, इसलिए हम जीवन रक्षक उपचार और द्रव चिकित्सा दे रहे थे। लेकिन ठीक होने के कोई संकेत नहीं थे और आखिरकार बुधवार को सुबह 4 बजे के आसपास इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई, ”डॉ आरए पटेल, प्रभारी चिड़ियाघर अधीक्षक ने कहा।
बाघिन की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मौत का कारण सांप के काटने या न्यूरोटॉक्सिन विषाक्तता का पता चला है। इसके विसरा के नमूने आगे की जांच के लिए नवसारी वेटरनरी कॉलेज भेजे गए थे। पटेल ने कहा, “चिड़ियाघर में कोबरा और वाइपर जैसे जहरीले सांप मौजूद हैं, इसलिए सांप के काटने का एक कारण हो सकता है और मिट्टी में मौजूद बैक्टीरिया के कारण न्यूरोटॉक्सिन विषाक्तता हो सकती है।”
उन्होंने कहा कि इसकी उम्र के कारण इसकी प्रतिरोधक क्षमता भी कम थी और पोस्टमार्टम से यह भी पता चला कि लीवर पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया था।
पटेल ने टीओआई को बताया कि संभवी को एक चिड़ियाघर से लाया गया था मंगलुरु 2014 में। संभवी की मौत के बाद नेचर पार्क में अब सिर्फ 10 साल का बाघ ही बचा है।

.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *